IAS

आईएएस की तैयारी कैसे करें – IAS कैसे बने 2021

IAS Priksha Ki Taiyari Kaise Kareयदि हम कहें की आईएएस की परीक्षा भारत में सबसे कठिन परीक्षा में से एक है तब यह गलत नहीं, क्यूंकि यह कठोर परिश्रम और स्मार्ट स्टडी के साथ तैयारी की जाने वाली परीक्षा है, आज की युवा पीड़ी की उत्पन्न में कहें तो हर युवा विधार्थी चाहता है की वह इस परीक्षा में सफल रहे और अपना जीवन सफल बनाएं।

यदि आप भी उनमे से एक है और आप IAS Kaise Bane एवं IAS Ki Taiyari Kaise Kare आदि के बारे में जानकारी पाना चाहते है तब आप इस लेख के माध्यम से पा सकते है, यहाँ हम आपको कोई ऐसा मंत्र या कोई ऐसा तरीका नही बताने वाले की आप उसको पढ़ कर आसानी से इस परीक्षा में जीत सफल हो जाएँ।

यहाँ इस लेख के माध्यम से हम आपको सिविल सेवा परीक्षा IAS से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां प्रस्तुत करने जा रहे है, जो आपके एग्जाम में आपके लिए रामबाड़ हो सकती है।

इस पृष्ठ में आपको, IAS Kya Hai और IAS Ke Liye Konsi Degree Chahiye, साथ ही IAS Details In Hindi, IAS Banne Ke Liye Subject कौन से ले यह भी जानना बहुत आवश्यक है, IAS Qualification In Hindi आदि से संबंधित जानकारी प्रतुत की जायेगी।

यह देखे : प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे – Competitive Exam Preparation

IAS Kya Hai

आईएएस की तैयारी कैसे करें - IAS कैसे बने 2021

आईएएस भारतीय पद है, जिसे संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) के द्वारा आयोजित किया है, इसकी शुरुआत 1850 के दशक में हुई थी, IAS full form Indian Administration Services हैं जो की अधिकारी की पोस्ट होती हैं इसमे आपको आईपीएस, कलेक्टर, फारेस्ट अफसर जैसे कई क्षेत्र मे आपको अधिकारी के पद पर नौकरी दी जाती हैं।

इसके साथ साथ IAS पद के लिए डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट (DM) एसडीएम (SDM) की न्यूक्तियाँ होती है एवं इसके प्रतिवर्ष आवेदन निकाले जाते हैं जिसमे उम्मीदवार प्राप्त अंक के अनुसार नौकरी पर लगाया जाता हैं, अन्यथा इस पद को पाने के लिए उम्मीदवार को कठिन परीक्षा जैसे UPSC (Union Publish Service Commission) से गुजरना पढता है।

किसी भी दफ्तर या अन्य विशेषण में नए क़ानून बनने के बाद उसको सही और सटीक तरीके एवं पूर्ण रूप से लागू करने में एक आईएएस ऑफिसर का बहुत बढ़ा योगदान रहता है इसी के साथ साथ उस लागू किये गए क़ानून को सही तजुर्वा देना और उसको सही तरीके से बनाये रखने में एक आईएएस पद की अहम भूमिका होती है।

IAS Ke Liye Subjects in Hindi 

एक आईएएस अधिकारी के लिए किसी भी विषय का चयन अति आवश्यक है, IAS परीक्षा के तैयारी करने वाले सभी विद्यार्थी यदि 10th से ही अपना विषय चयनित कारण लें तब उनको अधिक दिक्कत नहीं पड़ेगी, इसलिए आपको हम सलाह देंगे की आईएएस की परीक्ष में सफल होने के लिए आपको अपने विषय का चयन 10th में ही करना चाहिए।

परन्तु यहाँ हम विषय के बारे में बताने जा रहे है जिनके जरिए आप अपनी UPSC (Union Publish Service Commission) की परीक्षा में सफलता पा सकते एवं IAS में अपना जीवन सफल कर सकते है।

UPSC IAS की परीक्षा के लिए आप Graduation में Political Science (राजनीति विज्ञान), Geography (भूगोल), History (इतिहास), Economics (अर्थ शास्त्र), Philosophy (दर्शन) या Public Administration (सार्वजनिक प्रशासन) Subjects में से विषय चयन कर सकते है।

इसी के साथ साथ Commerce भी ले सकते है इससे भी आपको job आसानी से मिल जाएगी इसलिए Commerce subject ले सकते है, क्यूंकि यूपीएससी परीक्षा में फाइनेंस पर भी प्रश्न पूछे जाते हैं इसीलिए आप कॉमर्स विषय से भी अच्छी तैयारी करके आईएएस ऑफिसर बन सकते हैं।

संघ लोक सेवा आयोग Union Publish Service Commission (UPSC) की परीक्षा के लिए कला (Drawing) विषय सबसे अच्छा विषय है क्योंकि इसमें आपके वह अधिकतर सब्जेक्ट आ जाते हैं जो कि आईएएस की परीक्षा में पूछे जाते हैं। आईएएस की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए यह विषय सबसे अच्छा विषय होता है।

IAS Banne Ke Liye Yogyata

हम जानते है की UPSC भारत सरकार के अंतर्गत आने वाली भारतीय सिविल सेवाओं आयोग (Union Public Service Commission) में विभिन्न पदों के लिए उम्मीदवारों की भर्ती के लिए सालाना सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करती है। लगभग 11 लाख छात्र प्रीलिम परीक्षाओं के लिए आवेदन करते हैं, जिनमें से 4 से 5 लाख परीक्षा के लिए उपस्थित होते हैं।

UPSC Union Public Service Commission सिविल सेवाओं आयोग की परीक्षा पास करने के बाद ही आप एक एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर बनते हैं। यूपीएससी की परीक्षा आपको तीन चरणों में देना होता है जिसमें प्रीलिम्स, मेंस और इंटरव्यू शामिल है। प्रीलिम्स क्वालीफाई करने के बाद ही आप मेंस में बैठ सकते हैं, और अंत में आपका इंटरव्यू लिया जाता है।

यहाँ इस पाठ्क्रम में हम आपको IAS Exam Eligibility Details in Hindi प्रस्तुत करेंगे, यदि आप IAS बनने में रूचि रखते है तब आपके लिए यह क्रम महत्वपूर्ण होने वाले है, सभी योग्यताओं को ध्यान पूर्वक देखे और समझे।  

  • किसी भी यूनिवर्सिटी से मान्यता प्राप्त स्नातक की परीक्षा उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवार इस परीक्षा में भाग ले सकते है।
  • उम्मीदवारों को IAS परीक्षा लिखने के लिए भारतीय नागरिक होना अनिवार्य है, महिला और पुरुष उम्मीदवार दोनों इस परीक्षा के लिए समान है।
  • यदि आपका अभ्यर्थी ने अपनी अध्ययन किसी किसी व्यवसायिक कोर्स से पूरा किये है तो भी IAS UPSC Exam के लिए अप्लाई कर सकते है, परन्तु यह ध्यान रखना आवश्यक है की आपकी यह डिग्री स्नातक स्तर की होना अनिवार्य है।

IAS के लिए आयु सीमा (Age Limit) 

एक आईएएस ऑफिसर बनने के लिए आपकी उम्र भी श्रेणियाँ के द्वारा चयनित की जाती है, यदि आपकी आयु 21 वर्ष से कम है तब आप इसके उम्मीदवार अभी नहीं बन सकते है, क्यूंकि आईएएस ऑफिसर बनने के लिए आयु सीमा कम से कम 21 वर्ष होना अनिवार्य है।

लेकिन इससे अधिक आयु के युवा को श्रेणियाँ द्वारा चयनित किया जाता है, यदि स्नातक की आयु 32 वर्ष है तब उसमे कोई छूट मिलती क्यूंकि यह सामान्य श्रेणी में आ जाता है, सामान्य श्रेणी के विद्यार्थी 6 बार तक प्रयास कर सकते हैं। यदि स्नातक की आयु 35 वर्ष है तब इसमें उम्मीदवार को 3 वर्ष की छूट मिल सकती है क्यूंकि यह OBC Category में जाती है, ओ.बी.सी. वर्ग के विद्यार्थियों के लिए प्रयासों की सीमा 9 बार है,

इसी के साथ साथ यदि स्नातक की आयु 37 वर्ष है तब इसमें उम्मीदवार को 5 वर्ष की छूट मिलने के अवसर होते है क्यूंकि यह एक SC/ST Category में आ जाती है, इस श्रेणी के लिए स्नातक प्रयासों की कोई सीमा नहीं है वे चाहे जितनी भी बार इस परीक्षा के लिए प्रयास कर सकते हैं। वहीँ यदि स्नातक 42 वर्ष आयु है तब उसको इसमें 10 वर्ष की छूट मिल जाती है क्यूंकि यह विकलांग श्रेणी में आता है इसमें भी उम्मीदवार जितनी पार परीक्षा देना चाहता है दे सकता है।

IAS Ke Liye Best Books in Hindi 

इस पाठ्क्रम में आपको IAS परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण पुस्तकों के बारे में बताया जाएगा, जिनके जरिए आप अधिक से अधिक नॉलेज मिलेगी और परीक्षा में सफल हो सकते है।

  • आधुनिक भारत का इतिहास (विपन चंद्र)
  • इंडियन पॉलिटी फॉर सिविल सर्विसेज एक्साम (ए.म लक्ष्मीकांत)
  • Indian इकोनॉमी (रमेश सिंह)
  • इंडियन आर्ट एंड कल्चर (नितिन सिंघानिया)
  • इंडिया इयर बुक (राजीव महर्षि)
  • ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ माडर्न इंडिया (राजीव अहीर)

IAS Banne Ke Liye Kya Karna Hota Hai  

आईएएस भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक यदि हम कहें की सबसे कठिन और कठोर परीक्षा है तब यह गलत नहीं, क्यूंकि भारत में हर वर्ष इस पद पर लाखों से आवेदन किये जाते है, लेकिन कुछ ही विद्यार्थी है जो इसमें सफल हो पाते है, लेकिन जो असफल विद्यार्थी है वह भी इसमें अधिक अधिक मेहनत करते है।

यहाँ हम आपको इस परीक्षा में दिए गए चरण के बारे में बताएँगे क्यूंकि IAS की परीक्षा 3 चरणों में दी गई है, जो निम्न प्रकार से है :-

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)
  • मुख्य परीक्षा (Main Examination)
  • साक्षात्कार (Interview)
  • प्रशिक्षण (Training)

यह चार चरण परीक्षा में मुख्य है, जिसमे चारों चरण कठिन है, यदि आपको एक IAS ऑफिसर बनना है तब आपको यह चरण को पार करना होता है, इसमें सबसे मुख्य और अति कठिन साक्षात्कार (Interview) माना गया है, यदि कोई विद्यार्थी Interview में पास नहीं हो पाता तब उसे दोवारा इस मुकाम तक पहुँचने में ज्यादा समय नष्ट नहीं करना पढता है।

अन्य चरण

चार चरणों से पहले आपको 12th में अच्छे अंको से उत्तीर्ण करना होता है, यदि आप 12th में किसी भी विषय में पास नहीं हो पाते या अच्छे अंक नहीं ला पाते तब आपको स्नातक डिग्री नहीं मिल पाती है और IAS की परीक्षा के लिए आपके पास स्नातक डिग्री होना अनिवार्य है।

वहीँ यदि आप किसी यूनिवर्सिटी से मान्यता प्राप्त स्नातक की परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते है और आपकी डिग्री आपको मिल जाती है उसके बाद आपको इसमें UPSC (Union Public Service Commission) की परीक्षा को पार करना होता है, UPSC की परीक्षा IAS के साथ साथ अन्य पद जैसे IPS, IRS और IFS के लिए भी की जाती है।

भारत में जितने भी IAS से संबंधित पद या जितने भी कठिन पद है उसके लिए UPSC या SSC की परीक्षा आयोजित की जाती है, IAS पद में आपको UPSC की परीक्षा के बाद यह चार चरणों से गुजरना होता है तब आप एक IAS ऑफिसर बन सकते है, चलिए इन चरणों के बारे में आपको जानकारी बताते चलें।

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)

IAS परीक्षा के अनुसार इसका पहला चरण प्रारंभिक परीक्षा होता है, जिसमे आपको 2 पेपर आयोजित किये जाते है, General Studies-1 एवं General Studies-2/Aptitude Test इन दोनों पपेरों के अंक सामान्य होते है।

क्र०सं० प्रश्न पत्र अंक
1 सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र I (वस्तुनिष्ठ) 200
2 सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र II (वस्तुनिष्ठ) 200

इसके बाद IAS उम्मीदवार को मुख्य परीक्षा से गुजरना पढता है, जिसके बारे में हम आपको नीचे बता रहे है।

मुख्य परीक्षा (Main Examination)

IAS परीक्षा के अनुसार इसका दूसरा चरण मुख्य परीक्षा का होता है, जो Main Exam होता है, इसमें आपको अलग अलग 9 तरह के प्रश्न पत्र दिए जाते है और इसमें कुछ प्रश्न पत्र के अलग अंक होते है जैसे अंग्रेज़ी (English) एवं भारतीय भाषा (Indian Language) इन दोनों प्रश्नों पत्रों के 300 अंक दिए जाते है और सभी विषय में 250 अंक दर्ज किये जाते है।

क्र०सं० प्रश्न पत्र अंक
1. सामान्य अध्ययन  (प्रश्नपत्र –I) 250
2. सामान्य अध्ययन  (प्रश्नपत्र –II) 250
3. सामान्य अध्ययन  (प्रश्नपत्र –III) 250
4. सामान्य अध्ययन  (प्रश्नपत्र –IV) 250
5. वैकल्पिक विषय (प्रश्नपत्र –I) 250
6. वैकल्पिक विषय (प्रश्नपत्र –II) 250
7. निबंध लेखन 250
8. अंग्रेज़ी (अनिवार्य) 300
9. भारतीय भाषा (अनिवार्य) 300

इसका सबसे कठिन और सबसे महत्वपूर्ण साक्षात्कार (Interview) जिसे हम आपको नीचे बता रहे है।

साक्षात्कार (Interview)

IAS की तीसरा चरण जिसे हम Interview कहते है, यह Interview सबसे कठिन और महत्वपूर्ण माना गया है, इसमें आपको जनरल नॉलेज एवं करंट अफेयर से संबंधित प्रश्न पूछे जाते है, इसी के साथ साथ इसमें आपको कुछ ऐसे प्रश्न पूछे जाएंगे जिसका जवाव बिलकुल सरल होगा लेकिन उस प्रश्न को वह काफी ज्यादा घुमा फिरकर पूछते है, जिससे की उम्मीदवार को बता ना मिले ऐसे प्रश्न उसी अभ्यर्थी को बता मिलते है जो दिमाग को उतपन्न रखता है।

सभी प्रश्न पूछते बक्त इसमें आपको समय निर्धारण किया है जाता है, यदि आप उस समय तक वह प्रश्न नहीं बता पा रहे तब आपको फेल कर दिया जाता है।

प्रशिक्षण (Training)

IAS का चौथा चरण जो ट्रेनिंग से जाना जाता है, यह कोई ख़ास नहीं होता क्यूंकि आपको Interview के बाद ही एक IAS ऑफिसर बना दिया जाता है, लेकिन यह ट्रेनिंग देना अति आवश्यक होता है, यदि आप इस Training को नहीं कर पाते है तब यहाँ आपको कुछ समय दिया जाता है उसको सीखने के लिए और समझने के लिए उसके बाद दोवारा इस पद की ट्रेनिंग दी जाती है, Training सम्पूर्ण होने के बाद आप एक IAS ऑफिसर घोसित कर दिए जाते है।

IAS Ki Taiyari Kaise Kare 

आईएएस की परीक्षा की तयारी आपके मेहनत और लगन के ऊपर है यदि आप IAS को एक जूनून बनाकर तयारी करेंगे तब आपको कोई नहीं रोक सकता है, क्यूंकि यह स्मार्ट स्टडी के साथ साथ कठिन परिश्रम करने पर प्राप्त होती है, इस पाठ्क्रम में हम आपको IAS की तैयारी कैसे करे कुछ महत्वपूर्ण तरीके बताने जा रहे है।

यदि आप यह तरीके अपनाते है और परीक्षा में मेहनत करते है तब आपको IAS बनने से कोई नहीं रोक सकता है।

दृढ आत्मविश्वास बढ़ाएं 

यह महत्वपूर्ण है क्यूंकि किसी भी काम को करने के लिए Self Confident होना अति आवश्यक है, यदि आप अपने आप पर ही भरोसा करना छोड़ देंगे तब आगे कैसे सफल हो पाहेंगे। सरल भाषा में कहें तो आत्मविश्वास का मतलब है खुद पर विश्वास करना और हमारा आत्मविश्वास तब कम हो जाता है जब कोई हमें कह देता है कि तुमसे ना हो पाएगा और हम उस बात पर यकीन कर लेते हैं !

आपने जो प्रश्न को हल किया है और उसको याद किया है अब यदि आपके अंदर Self Confident नहीं है तब आपके मन में यही स्वयं होंगे की क्या मैं इस प्रश्न को हल करा पाऊंगा, क्या इस परीक्षा में सफल हो पाऊंगा आपको बिलकुल सोचना नहीं है। यह एक तरीके से आपके अंदर नकारात्मक विचार भरे हुए है यदि आपको वह प्रश्न काल हल पता भी होगा और आपको ऐसे नकारात्मक विचार आएंगे तब आप उस प्रश्न का हल भी भूल सकते है।

एक ही लक्ष्य बनाए

अपने जीवन में एक ही लकी निर्धारित करे की यह करना है तो करना है चाहे कुछ भी हो जाए, इसी के साथ साथ संयम रखना भी बहुत जरूरी होता है, हम जानते है की एक मनुष्य से बढ़कर कुछ नहीं दिया ईश्वर ने सबसे ज्यादा ताकतबर मनुष्य को ही बनाया है, आप यह सोच कर चलो की मई यह कर सकता है और एक ही लक्ष्य पर,

कई बार ऐसा होता है की अधिक से अधिक व्यक्ति होते जो अपने जीवन का लक्ष्य भूल जाते है और इधर उधर भटक जाते है जिसके कारण वह जीवन में सफल नहीं हो पाते आपको ऐसा नहीं करना शुरू से आपने जो ठान लिया है उसको ही करना है।

सिलेबस और पैटर्न को समझे 

किसी भी परीक्षा को देने से पहले उसके पाठ्क्रम और पैटर्न को समझना अति आवश्यक होता है, यदि आप सिलेबस को हो नहीं समझ पाते तब आपको उसमे क्या पता चल पायेगा, पैटर्न में आपको अधिक से अधिक जानकारी जैसे किस प्रश्न में आपको कितने अंक निर्धारित किये जाएंगे उसी के साथ साथ कितना समय दिया जाएगा एवं की तरीके के प्रश्न मिल सकते है।

यह सब आपको परीक्षा के सिलेबस में और पैटर्न में देखने को मिलता है, इसलिए Syllabus अवश्य देखे, इसी के साथ साथ सिलेबस को पीडीऍफ़ के माध्यम से गूगल ड्राइव में सेव करे।

समय सारणी बनाएं 

समय का महत्त्व समझना बहुत जरूरी होता है, यदि आप इस समय अपना समय नष्ट करेंगे तब आगे चलकर कुछ नहीं कर सकते, क्यूंकि यही समय है जिसमे आप अपना जीवन सफल बना सकते है इसलिए प्रिय कभी समय नष्ट ना करे :-

IAS परीक्षा को समझते हुए समय का टाइम टेबल बनाएं यह बहुत जरूरी होता है क्यूंकि अधिक से अधिक विद्यार्थी अलग अलग विषय का अध्यन करते है एक ही समय में जिसके कारण मस्तिष्क में कुछ समझ नही आता।

IAS परीक्षा में आपको ज्यादा से ज्यादा जनरल नॉलेज के प्रश्न एवं करंट अफेयर में से पूंछा जाता है, इसलिए आपको सबसे ज्यादा IAS के लिए GK के प्रश्न पर ध्यान देना है।

अंतिम शब्द : 

अंतिम शब्दों में हम आपको यही कहेंगे की कभी भी जीवन में किसी भी प्रकार की मुसीबते आये तब उसका डट कर सामना करें, ना की हार मान जाएँ प्रॉब्लम हर किसी के साथ होती है किसी के पास कम तो ज्यादा इस संसार में हर व्यक्ति को प्रॉब्लम से लड़ना होता है।

क्यूंकि उस बक्त आपका इन्तिहाँन लिया जाता है यदि आप उस बक्त अपने आप पर भरोशा नहीं रखेंगे तब आप कभी कामयाब नहीं हो सकते, हाँ एक बात और IAS की परीक्षा में पेपर देने से पहले अपने ईश्वर को अवशय याद करें।

इसी के साथ साथ यदि आपको यह लेख पसंद आया और इस पृष्ठ से आपको कुछ सीख मिली हो तब अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करे यदि आप अपनी परीक्षा में किसी भी प्रकार की जानकारी पाना चाहते है तब हमसे पूछ सकते है। हम आपके सवाल का जवाव अवश्य देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *